Friday, 21 October 2016

FACEBOOK JOKES

Facebook jokes :-









कपड़े हो गए छोटे
लाज कहाँ से आए
रोटी हो गई ब्रैड
ताकत कहाँ से आए
फूल हो गए प्लास्टिक के
♨ खुशबू कहाँ से आए
चेहरा हो गया मेकअप का
रूप कहाँ से आए
शिक्षक हो गए टयुशन के
विद्या कहाँ से आए
भोजन हो गए होटल के
✊ तंदरुस्ती कहाँ से आए
प्रोग्राम हो गए केबल के
संस्कार कहाँ से आए
आदमी हो गए पैसे के
दया कहाँ से आए
धंधे हो गए हायफाय
बरकत कहाँ से आए
ताले हौ गए पासवर्ड
सैफटी कहाँ से आए
भक्त हो गए स्वार्थी
भगवान कहाँ से आए
रिश्तेदार  हो गये व्हाट्सऐप पे
मिलने कहाँ से आए

: मंदिर के बाहर लिखा हुआ एक खुबसुरत सच......

"अगर उपवास करके भगवान खुश होते,

तो इस दुनिया में बहुत दिनो तक खाली पेट
रहनेवाला भिखारी सबसे सुखी इन्सान होता..

उपवास अन्न का नही विचारों का करे....

इंसान खुद की नजर में सही होना चाहिए, दुनिया तो भगवान से भी दुखी है!

आज का विचार:

चिड़िया जब जीवित रहती है
           तब वो किड़े-मकोड़े को खाती है।

और चिड़िया जब मर जाती है तब
           किड़े-मकोड़े उसको खा जाती है।

इसलिए इस बात का ध्यान रखो की समय और स्थिति कभी भी बदल सकते है.

इसलिए कभी किसी का अपमान मत करो
कभी किसी को कम मत आंको।
तुम शक्तिशाली हो सकते हो पर समय तुमसे भी शक्तिशाली है।
एक पेड़ से लाखो माचिस की तिलियाँ बनाई जा सकती है।
पर एक माचिस की तिली से लाखो पेड़ भी जल सकते है।

कोई चाहे कितना भी महान क्यों ना हो जाए, पर कुदरत कभी भी किसी को महान  बनने का मौका नहीं देती।

कंठ दिया कोयल को, तो रूप छीन लिया ।
रूप दिया मोर को, तो ईच्छा छीन ली ।
दी ईच्छा इन्सान को, तो संतोष छीन लिया ।
दिया संतोष संत को, तो संसार छीन लिया।

☝मत करना कभी भी ग़ुरूर अपने आप पर 'ऐ इंसान'
☝ भगवान ने तेरे और मेरे जैसे कितनो को मिट्टी से बना कर, मिट्टी में मिला दिए ।

इंसान दुनिया में तीन चीज़ो के लिए मेहनत करता है

1-मेरा नाम ऊँचा हो .
२ -मेरा लिबास अच्छा हो .
3-मेरा मकान खूबसूरत हो ..

लेकिन इंसान के मरते ही भगवान उसकी तीनों चीज़े
सबसे पहले बदल देता है

१- नाम = (स्वर्गीय )
२- लिबास = (कफन )
३-मकान = ( श्मशान )

जीवन की कड़वी सच्चाई जिसे हम समझना नहीं चाहते 

ये चन्द पंक्तियाँ
जिसने भी लिखी है
खूब लिखी है।

एक पत्थर सिर्फ एक बार मंदिर जाता है और भगवान बन जाता है ..
इंसान हर रोज़ मंदिर जाते है फिर भी पत्थर ही रहते है ..!!
NICE LINE
एक औरत बेटे को जन्म देने के लिये अपनी सुन्दरता त्याग देती है.......
और
वही बेटा एक सुन्दर बीवी के लिए अपनी माँ को त्याग देता है
********[**********]*****
जीवन में हर जगह
हम "जीत" चाहते हैं...

सिर्फ फूलवाले की दूकान ऐसी है
जहाँ हम कहते हैं कि हमें
"हार" चाहिए।

➖♦➖♦➖♦➖
ये ज़िन्दगी जैसी भी है,
बस एक ही बार मिलती है।
ये Message जरुर सबको भेजना ..ll






: जीन्स आळी तो देश क आवै सै ,
मेरी तो सूट पहर कै आवैगी...
.
.
खास_खास मरोगे साळो ,
जब थारै आगे क ओल्हा काढ़ कै जावैगी...




: दिल्ली में जब कोई पति सोने जाता है ,--
तो पत्नी बोलती है
,“Good Night Darling “,, 
जब जयपुर में कोई पति सोता है तो पत्नी बोलती है ,“Have a sweet dream ” 

जब नोहर भादरा
में पति सोने जाते हैं तो पत्नी बोलती हैं –
“रसोई के कुंटो  लगा दियो के।
थारी माँ बा बिल्ली दूध पिगी तो दिनगै आख्या काडोगा चा खातर"
  〽






Hlo: बहुत तेज बारिश हो रही थी।

एक बुजुर्ग महिला रुद्रपुर से नैनीताल जाने वाली बस में बैठी।
महिला (कंडक्टर से): हल्द्वानी आ जाए, तो बता देना।
कंडक्टर: ठीक है माता जी।

कंडक्टर महिला को बताना भूल गया और बस दोगांव पहुंच गई।

महिला: हल्द्वानी आ गया?

कंडक्टर: माता जी, वो तो बहुत पीछे रह गया।

महिला (रोती हुई): मुझे वापस ले चल बेटा…
महिला को इतना रोता देख सभी यात्रियों ने कंडक्टर से बस वापस ले जाने को कहा।
हल्द्वानी पहुंचने पर कंडक्टर बोला: माता जी, हल्द्वानी आ गया। उतर जाओ।

महिला: उतरूं क्यों बेटा?

कंडक्टर (हैरान होकर): तो बस वापस क्यों लाने को बोला?

महिला: मुझे डॉक्टर ने कहा था कि हल्द्वानी पहुंचकर दवाई खा लेना। दो मिनट रुक, दवाई खा लुं फिर जाना तो नैनीताल ही है….

सब बेहोश…





बहु : माँ जी, ये अभी तक नहीं आये,
कही कोई लड़की का चक्कर तो नहीं है उनका?

माँ जी:
अरे कलमुही तू तो हमेशा गलत ही सोचती है,
हो सकता है कि किसी ट्रक के नीचे आ गया हो

☺☺☺☺☺




कभी किसी ने ये सोचा कि दवाई के पैकेट मे 10 tablet ही क्यों होती है ???

जानकारी के लिए बता दूँ..

यह प्रथा जब रावण को सरदर्द हुआ, तब उसी ने चालू करवायी थी…!





: पत्नी : अगर मैं अचानक मर गई तो तुम क्या दूसरी शादी करोगे?

पति : नो डार्लिंग, ऐसा तो मैं सोच भी नहीं सकता!!!

पत्नी : क्यों, नहीं क्यों ? अरे आपके अच्छे बुरे पलों को बांटने के लिए कोई तो साथी चाहिए!!!

प्लीज शादी कर लेना डार्लिंग!!!

पति : ओह माय शोना.. मरने के बाद की भी मेरी इतनी फ़िक्र???

पत्नी : तो प्रोमिस ? आप दूसरी शादी कर लोगे ना ?

पति : ओके बाबा, लेकिन सिर्फ तुम्हारी खातिर करूँगा !!!

पत्नी : तुम अपनी नई पत्नी को इस घर में रखोगे ना ?

पति : हाँ, लेकिन उसे तुम्हारा कमरा कभी यूज़ नहीं करने दूंगा।

पत्नी : उसे अपनी कार चलाने दोगे ?

पति : नो, नेवर,,, उस कार को तो तुम्हारी यादगार बना के रखूंगा।
उसको दूसरी कार दिला दूंगा !!!

पत्नी : और मेरे ज़ेवर …?

पति : वो उसे कैसे दे सकता हूँ। उनसे तुम्हारी यादें जुड़ीं होंगी। वो
अपने लिए नई ज्वेलरी मांगेगी ना !!!

पत्नी : वो मेरी जींस पहनेगी तो ?

पति : नहीं उसका नंबर 30 है और तुम्हारा 34 !!!

चुप्पी छा गई…

पति : ओ शिट…

पति का अंतिम संस्कार कल 10 बजे है!!!





:: हँसना मना ह
: राजस्थान में गणेशोत्सव संपन्न हुआ और श्री गणेश जी कैलाश पर्वत पर पहुँचे।

माता पार्वती ने पूछा: कैसा रहा उत्सव का माहौल?

गणेश जी: बरस बरस मारा इन्द्र राजा.तू बरश्या मारो काज सरे ।

माता पार्वती: अरे, ये क्या बोलते हो ?

गणेश जी: अरे अमलिडो अमलिडो अमलिडो भोलो सन्ता ने लागे वालो अरे नाग तिरस् वा वालो ओ बाबो भोलो अमलीडो ।।।

रिद्धी: अरे, ये क्या है ???

गणेश जी: ले नाच.. ले नाच.. ले नाच मारी बींदणी भंडारा में डीजे बाजे नाच …..

सिद्धि: अरे किया हुआ स्वामी ?????

गणेश जी: ओ ढकण खोल दे .. ऐ ढकण खोल दे कलाली थारी बोतल को दारू रे पियाला मैं तो थारे घर को।।।

शंकर जी: आजकल टाबरा ने राजस्थान भेजण रो ज़मानो ही कोनी रियो।

0 comments:

Post a Comment